पीछे

back
New Page 1
वीरकॉम्बी-44
(प्रोफेनोफॉस 40 प्रतिशत + सायपरमेथ्रन 4 प्रतिशत ई.सी.)
वीरकोम्बी आर्गेनोफास्फेट वर्ग के क्लोरवीर व संश्लेषित पायरोथ्रोइड वर्ग के साईपरवीर का अनूठा वृहद आयामी कीटनाशक मिश्रण है। वीरकोम्बी कीटों के लिए एक स्पर्श एवं उदर विष के अतिरिक्त प्रद्युमन (फुमिगेंट) का प्रभाव भी रखता है। इसके उपयोग से पौधों के ऊतकों को छेदने, पत्तियां व फलों को कुतरने एवं रस चूसने वाले कीटों सहित अनेकों कीटों का सफलतापूर्वक नियंत्रण किया जा सकता है।

उपयोग तालिका

प्रमुख फसलें

नियंत्रित होने वाले कीट मात्रा
(प्रति एकड़)
विशेष
गेहूँ व जौ टिड्डे (ग्रासहोपर),  सेन्य  कीट, तना छेदक तम्बाकू की लट 400 मि.ली.  80 से 120 लीटर में घोल कर।
सरसों आरा मक्खी, सेमी ,  लूपर, चित्रित मत्कुण  250 मि.ली. 80 से 100 लीटर पानी में घोल कर।
चना व मटर कटुआ कीट, फली छेदक 300 मि.ली. 80 से 100 लीटर पानी में घोल कर।
गन्ना टिड्डे (ग्रासहोपर), जड छेदक व शूट बोरर, मिली बग 500 मि.ली. 100 से 150 लीटर पानी में घोल कर
प्रयोग करें।
नींबू वर्गीय फल  नींबू की तितली, लीफमाइनर, सिट्रस सिल्ला
 
1.0 लीटर 500 लीटर पानी में घोल कर प्रयोग करें।
आम आम का फुदका, मिली बग, तना छेदक
 
 
सावधानियां - फसल की कटाई या फल तुड़ाई के पन्द्रह दिन पूर्व इस कीटनाशक का उपयोग न करें।
 
उत्तम उत्पाद

अस्वीकरण   | कॉपीराइट © 2011 चम्बल फर्टिलाइजर्स एण्ड केमिकल्स लिमिटेड | सर्वश्रेष्ठ अवलोकन हेतू 1024 x 768 पर देखे