पीछे

back
New Page 1
टेम्पो
फिप्रोनिल 0.3 प्रतिशत जी.आर.
टेम्पो फिनाइल पायराजोल परिवार का एक स्पर्ष व उदर कीटनाशक रसायन है। टेम्पो से उपचारित पौधों को खाने के प्रभावस्वरूप कीट अपनी सामान्य गतिविधियां व भोजन करना छोड़ देते हैं जिससे इसके प्रयोग के बाद फसल को कोई खास नुकसान नहीं हो पाता है। टेम्पो का प्रभाव कीटों पर पड़ने से प्रभावित कीटों को मिचली आती है, दौरे पड़ते हैं व अन्त में लकवा होने से उनकी मृत्यु हो जाती है।

टेम्पो का रसायन जड़ों द्वारा अवशोषित हो कर तने के जाइलम उतकों द्वारा समूचे पौधों में पहुँच कर उन्हे कुछ काल के लिए विषैला बना देता है जिससे भूमि के ऊपरी बढवार करने वाले भाग तना, पत्तियां, फूल आदि को कुतरनेवाले व उनसे रस चूसने वाले कीड़ों को रोकने में कारगर होता है।

उपयोग तालिक

प्रमुख फसलें

नियंत्रित होने वाले कीट

मात्रा
(प्रति एकड़)
विशेष
गन्ना दीमक, जड़ छेदक 12 और 15 किलो  कतारों जड़ के पास भूमि में दें
आलू कटवर्म 10 किलो कतारों या मेडो में भूमि में मिला कर दें
गेहू व दीमक से प्रभावित खेतों में दीमक 10 किलो भूमि उपचार करें
धान तना छेदक, भूरे, हरे व सफेद पीठ वाले फुदके (जैसिड), धान की विविल, पर्णकीट (थ्रिप्स), आदि 10 किलो खेत में समान रूप से बिखेर कर दें।
ज्वार, मक्का  दीमक, जड़ व तना छेदक 12 से 15 किलो कतारो में जड़ों के पास भूमि में दें।
मूंगफली दीमक, सफ़ेद लट 12 से 15 किलो भूमि उपचार करें
 
टिप्पणी - टेम्पो को फसल पर बिखेरने या हल से जड़ों के पास भूमि में ड्रिल करते समय हाथ में दस्ताने पहने व अन्य सुरक्षात्मक साधनों का उपयोग करें।
 

टेम्पो से नियंत्रित कीट

तना छेदक जड़ छेदक गन्ने में दीमक से हानि

छेदक कीट से हानि भूमिगत दीमक   आलू, चने आदि का कटुआ कीट
उत्तम उत्पाद

अस्वीकरण   | कॉपीराइट © 2011 चम्बल फर्टिलाइजर्स एण्ड केमिकल्स लिमिटेड | सर्वश्रेष्ठ अवलोकन हेतू 1024 x 768 पर देखे