पीछे

back
New Page 1
कोक्सील
(टेबुकोनाजोल 2 प्रतिशत डी.एस.)

कोक्सील बीजों को उपचारित कर रोगमुक्त करने हेतु प्रयोग होने वाला शक्तिशाली अन्त:प्रवाही फंफूदनाशक है। बीजों कों उनकी बिजाई से पूर्व उपचारित करने से स्मट (काग्या), फ्लेग स्मट, कॉलर रॉट, तना - सड़न, जड़ गलन जैसे घातक बीज-जन्य रोगों के प्रसार में उल्लेखनीय कमी आती है। कोक्सील को इमिडाक्लोपिड़ 70 डब्ल्यु.एस या थायोमिथो-िक्जम जैसे अन्य कीटनाशी बीजोपचारकों के साथ मिला कर उपयोग किया जा सकता है।

 
उपयोग तालिका
प्रमुख फ़सलें नियंत्रित होने वाले रोग मात्रा
(प्रति एकड़ )
विशेष
गेहूं व जौं कंडुआ, कांग्या, खुली व बंद कंगियारी 1 ग्राम बीजों को उनकी बुआई से पूर्व कोक्सील के सूखे पाउड़र से बीज उपचारित यंत्र की सहायता
मूंगफली ग्रीवा सडन (कॉलर रॉट), जड़ गलन 1 से 1.25 ग्राम से उपचारित करें।
 

सावधानियां

  • कोक्सील एक विषाक्त रसायन है और बीजोपचार के दौरान हाथ में दस्ताने पहन कर व मुंह में मास्क लगा कर इसका उपयोग करें।
उत्तम उत्पाद

अस्वीकरण   | कॉपीराइट © 2011 चम्बल फर्टिलाइजर्स एण्ड केमिकल्स लिमिटेड | सर्वश्रेष्ठ अवलोकन हेतू 1024 x 768 पर देखे